Bootstrap Example

फरीदाबाद रॉकर्स ने समझाया अपने अंदाज में लॉक डाउन का महत्व , हँसी ठिठोली से भरा लॉक डाउन में जमकर रंग

@Deepika gaur

लॉक डाउन के चलते लोग खुदको एक जेल का कैदी समझने लगे है, लेकिन कहीं ना कहीं लोग खुद भी इस बात से बाकिफ है कि यही जेल कोरोना वायरस को फेल कर सकता है।

लेकिन इस तनाव भरी जिंदगी को मनोरंजन से भरने के लिए फरीदाबाद रॉकर्स अपनी टीम के साथ एक खास पेशकश लाए है।

जिसमें मुख्य रूप से ग्रामीण जीवन शैली को लॉक डाउन कितना प्रभावित कर रही है, यह भलीभांति समझाने का प्रयास किया है।

 इस पेशकश में जहां एक तरफ हसी - ठिठोली है तो दूसरी तरफ एक पुलिसकर्मी की ड्यूटी का बखान हुआ है।
 
इस अद्भुत पेशकश में बड़े बुजुर्गो, महिलाओं से लेकर मनचले आशिकों की हालत पर पुलिसकर्मी कितना मरहम लगा रहे है। आप भी जरूर देखें।

फरीदाबाद रॉकर्स टीम से प्रड्यूसर्स - निर्देशक अन्नूप चहल, डीओपी राज नगर तथा लेखक माही भारद्वाज 
ने अपने टैलेंट से अपने दर्शकों का खूब मनोरंजन किया है।


Related News



Insert title here