Bootstrap Example

दिहाड़ीदार मजदूरों, गरीब परिवारों, रिक्शा चालकों, स्लम बस्तियों में रहने वाले लोगों तक पहुंचाया जाएगा दाना पानी ।

@Vishal rajput

फरीदाबाद : उपायुक्त यशपाल ने बताया कि जिला में दिहाड़ीदार मजदूरों, गरीब परिवारों, रिक्शा चालकों, स्लम बस्तियों में रहने वाले लोगों तथा अस्थाई आश्रय स्थलों में रहने वाले प्रवासी श्रमिकों के लिए खाने-पीने की उचित व्यवस्था की जा रही है। इन लोगों को फूड पैकेट व करीब एक सप्ताह तक का राशन उपलब्ध करवाया जा रहा है।

जिला उपायुक्त ने बताया कि रैड क्रॉस के वालंटियर जरूरतमंदों तक राशन तथा खाना पहुंचा रहे हैं। अब देश में पूर्ण रूप से लॉकडाउन लगने के बाद सभी प्रदेशों की सीमाएं सील कर दी गई हैं। ऐसे में हरियाणा प्रदेश की सीमाएं भी सील हो गई हैं। ये वॉलिंटियर जरूरतमंदों तक राशन तथा पका भोजन वितरण के साथ-साथ प्रवासियों को अपने स्थानों पर ही रुकने के लिए प्रेरित कर रहे हैं और लॉकडाउन के बारे में जागरूकता फैलाने का काम कर रहे हैं।

जिला रेडक्रॉस सोसायटी के सचिव विकास कुमार के अनुसार शहर की सभी स्लम बस्तियों को वॉलिंटियरो द्वारा मैप किया जा चुका है। अब शहर में विभिन्न पॉकेट्स में  रहने वाले लोगों तक पहुंचने का प्रयास किया जा रहा है। शहरी क्षेत्र में उपायुक्त यशपाल के दिशा निर्देश में हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण के संपदा अधिकारी को प्रदीप दहिया को राशन तथा पका भोजन वितरण के नोडल अधिकारी बनाया गया है। नगर निगम के सभी 40 वार्डो मे एक-एक अधिकारी नियुक्त किया गया। जिला प्रशासन द्वारा सूखा राशन तथा पका भोजन एकत्रित करने की जिम्मेदारी जिला रेडक्रॉस को दी गई है। जिला की कई एनजीओ भी भोजन के पैकेट वितरण के लिए जिला रेडक्रॉस सोसायटी का सहयोग कर रही हैं तथा वे निरंतर सोसाइटी के संपर्क में हैं। उन्होंने बताया कि आज सोमवार को सोसायटी द्वारा सैक्टर-12, सैक्टर 17, 18 डिवाइडिगं रोड, बङौली गांव, गड्डी मौहल्ला, लेबर चौक, ओल्ड फरीदाबाद, इस्माइलपुर गांव, सुभाष कालोनी, ऊंचा गांव, सैक्टर-9, राजीव कॉलोनी बल्लभगढ़, बसेल्वा कॉलोनी ओल्ड फरीदाबाद, खेङी पुल ओल्ड फरीदाबाद, भीम बस्ती ओल्ड फरीदाबाद, भारत कॉलोनी ओल्ड फरीदाबाद सहित अनेक स्थानों पर ज़रूरतमंद लोगों को भोजन के पैकेट तथा राशन वितरण किया गया।


Related News



Insert title here