Bootstrap Example

13 वर्षीय स्कूटी सवार की पिटाई के मामले में सच आया सामने

@Deepika Gaur

ओल्ड फरीदाबाद में ओल्ड फरीदाबाद नगर निगम के नजदीक पुलिस कर्मी के द्वारा एक 13 वर्षीय स्कूटी सवार एक लड़के को डंडे मारने और उसकी टांग तोड़ने के एक मामले में नया मोड़ आया हैं। पुलिस जांच के दौरान मिली सीसीटीवी कैमरे में तस्बीर में साफ़ नजर आ रहा हैं कि एक पुलिस कर्मी जिसकी लॉक डाउन केदौरान राइडर पर डियूटी हैं। ने एक तेज गति से आ रहीं एक स्कूटी को जैसे ही उसने रोका तो स्कूटी सवार दो लड़के नीचे गिर गए। इस घटना का सीसीटीवी फुटेज में कैद हो गई 

एसीपी ओल्ड आदर्शदीप सिंह का कहना हैं कि जिस पुलिस कर्मी पर लड़का व अन्य लोग गंभीर आरोप लगा रहे हैं वही पुलिस कर्मी उसे उठा कर खड़े करने की कोशिश कर रहा हैं पर वह लड़का अपने पैरों पर खड़ा नहीं हो पा रहा हैं। इस सीसीटीवी फुटेज में पुलिस कर्मी एक भी थप्पड़ मारते हुए नहीं दिखाई दे रहा हैं। उनका कहना हैं कि स्कूटी चलाने वाला लड़का नाबालिग हैं, उसकी उम्र कुल 13 साल हैं। उसके सिर पर न तो हेलमेट हैं ,ना ही उसके पास ड्राईविंग लाइसेंस हैं। उनका कहना हैं कि इस कोरोना वायरस के चलते देश भर में लॉकडाउन हैं और देश का सारा सिस्टम बंद हैं। लोगों को कोरोना वायरस जैसे बिमारी से बचने के लिए देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वंय हाथ जोड़ कर विनती की थी । कोरोना बीमारी का कोई इलाज नहीं। इस बीमारी के चैन को तोड़ने के लिए अपने अपने घरों में बंद रहे हैं। इस बीमारी के प्रति देश के फिल्म स्टार देशवासियों ने अपने तरीके से जागरूक कर रहे हैं कि कोरोना बिमारी से बचने के लिए अपने अपने घरों में रहे ,जरुरत के सामानों के लिए घर के समझदार लोग ही खरीदारी करने के लिए मार्किट में निकले। वावजूद इसके इस छोटे बच्चे को स्कूटी लेकर बाहर भेज दिया। उनका कहना हैं कि इस वक़्त खुद भी अपने बच्चों को भी सुरक्षित रखने के लिए अपने घरों में रहे।


Related News



Insert title here