Bootstrap Example

कोरोना से बचाव के लिए फरीदाबाद व्यापार मंडल ने बाजारों में बांटे मास्क व सैनिटाइजर.

@Mahesh Kumar

कोरोना वायरस से बचाव में  देश पूरी तरह से जुट गया है। हर कोई इस बीमारी के प्रति लोगों को जागरूक करना अपनी नैतिक जिम्मेदारी समझ रहा है। यही कारण है कि देश में कोरोना वायरस को लेकर लोगों में जागरूकता दिखाई दे रही है। इसी कड़ी में शुक्रवार को फरीदाबाद व्यापार मंडल ने शहर के बाजारों में लोगों को मास्क व सेनीटाईजर वितरित किए। व्यापार मंडल के प्रधान जगदीश भाटिया ने अपनी पूरी टीम के साथ शुक्रवार की सुबह एनआईटी नंबर 1 की मार्केट में पैदल चलते हुए दुकानदार, बाजार में आने वाले ग्राहक व अन्य लोगों को मास्क व सेनीटाईजर की बोतल बांटी। इस अवसर पर व्यापार मंडल ने दुकानदारों से आग्रह किया कि वह अपनी दुकानों में सेनीटाईजर का प्रयोग करें और उनके संस्थानों में आने वाले ग्राहकों को सेनीटाईज करें। इस अवसर पर श्री भाटिया के साथ मास्क बांटने वालों में  व्यापार मंडल के वरिष्ठ उपप्रधान सरदार जगनशाह, महामंत्री वेदप्रकाश कुकरेजा, हरीश भाटिया, दीपक, सोनू,तरूण, रमेश मदान, सन्नी, अनिल, सुभाष चक्रवर्ती,  सतीश व रिंकू प्रमुख रूप से शामिल थे। इस अवसर पर व्यापार मंडल की टीम ने प्रधान जगदीश भाटिया की अगुवाई में दुकानों पर जाकर वहां उपस्थित स्टॉफ व ग्राहकों को कोरोना के प्रति आवश्यक सावधानियां बरतने की सलाह दी। श्री भाटिया ने कहा कि व्यापार मंडल की ओर से लगातार कोरोना बीमारी से बचाव के लिए जागरूकता अभियान चलाया जाएगा। उन्होंने बताया कि कोरोना बीमारी के वायरस एक से दूसरे व्यक्ति के जरिए फैलता है। इसलिए यदि किसी को छींक या खांसी आए तो वह पूरी सावधानी बरते। श्री भाटिया ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जनता कफ्ूर्य के जरिए लोगों को कोरोना से लडऩे का आहवान किया है। वह प्रधानमंत्री के इस आहवान में आहूति डालेंगे। उन्होंने बाजार में सभी लोगों से अपील की है कि रविवार 22 मार्च को जनता के द्वारा जनता के लिए लगाए जाने वाले कफ्र्यू में अपनी आहुति डालकर कोरोना को भगाने का संकल्प लें। सभी लोग स्वयं इस बीमारी से बचें और दूसरों को भी बचाएं। श्री भाटिया ने प्रधानमंत्री श्री मोदी के आहवान की प्रशंसा करते हुए कि वह उनके साथ कंधे से कंधा मिलाकर चलेंगे। श्री भाटिया ने लोगों से अपील की कि लोग जमाखोरी व कालाबाजारी ना करें। इस प्रकार की किसी अफवाह पर ध्यान ना दें, जिससे देशवासियों को परेशानी का सामना करना पड़े। विशेष तौर पर जमाखोरी व कालाबाजारी का हिस्सा ना बनें।


Related News



Insert title here