Bootstrap Example

कोरोना वायरस(covid-19) पर पीएम मोदी का राष्ट्र संबोधन, 22 मार्च रविवार को "जनता कर्फ्यू" के माध्यम से मांगा जनता का सहयोग

@Deepika gaur

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार रात आठ बजे पूरे राष्ट्र को कोरोना वायरस पर संबोधित करना शुरू किया। उन्होंने देशवासियों को संबोधति करते हुए वैश्विक महामारी से निपटने के उपायों आदि के संबंध में अपनी बात रखी ,और कहा कि ऐसी स्थिति में, जब इस बीमारी की कोई दवा नहीं है तो हमारा खुद का स्वस्थ बने रहना बहुत आवश्यक है। इस बीमारी से बचने और खुद के स्वस्थ बने रहने के लिए संयम
अनिवार्य है ।आज हमें ये संकल्प लेना होगा कि हम स्वयं संक्रमित होने से बचेंगे और दूसरों को भी संक्रमित होने से बचा पाएंगे ।
देश को आधे घंटे के संबोधन में पीएम मोदी ने कहा कि आम जनता को कोरोना से डरने की बजाए लडऩे की जरूरत है। सभी एक दूसरे को जागरूक करें और अपनी पूरी ताकत इस बीमारी से लडऩे में लगा दें। उन्होंने देश की जनता की सराहना की कि सभी लोग इस महामारी के प्रति जागरूक होकर बचाव कार्य में जुट गए हैं। उन्होंने कहा रविवार 22 मार्च को सुबह सात बजे से रात्रि नौ बजे तक जनता कर्फयू का पालन करने का आह्वान किया। इस दौरान अपने घर से किसी को अपने घर से नहीं निकलना है। जनता कर्फयू के दिन सायं 5 बजे घर के दरवाजे या खिड़की पर खड़े होकर पांच मिनट तक ऐसे लोगों का ताली बजाकर, थाली बजाकर, घंटी बजाकर आभार व्यक्त करें जो डॉक्टर, समाजसेवी  संस्थाओं या मीडिया कर्मियों के रूप रूप में काम करते हैं।

इसके साथ ही अगले 2 दिनों में सभी को इस कर्फ्यू के बारे में ज़्यादा से ज़्यादा लोगों को जागरूक करने की भी अपील की है।


Related News



Insert title here