Bootstrap Example

ये कैसा रेलवे स्टेशन है जहां प्लेटफॉर्म से ज्यादा सवारी पटरियों पर करती है रेल का इंतजार, बाहर निकलने के रास्ते की भी नहीं है व्यवस्था

@Anuj Sharma

फरीदाबाद के बाटा न्यू टाउन रेलवे स्टेशन पर सुरक्षा के सभी नियमो की सरेआम धज्जियां उड़ाई जा रही, जिसके लिए जीतने जिम्मेदार स्टेशन से सफर करने वाले लोग है उतना ही प्रशासन जो अपने कार्यों में लापरवाही दिखा रहा है। न्यू टाउन रेलवे स्टेशन की सबसे बड़ी समस्या है स्टेशन से बाहर निकलने के लिए उचित रास्ते का न होना है जिस कारण इस स्टेशन के द्वारा एनआईटी की और से आने व जाने वाले लोग रेल की पटरियां पार करते है और आए दिन स्टेशन पर रेल दुर्घटनाएं सामने आती है। इन दुर्घटना को रोकने के लिए रेलवे प्रशासन द्वारा बाहर निकलने वाले रास्ते पर रेलिंग लगा दी गई थी लेकिन लोगो का कहना है कि प्रशासन द्वारा फ्लाईओवर के माध्यम से बाहर निकलने के लिए कहा जाता है लेकिन फ्लाईओवर रेलवे की संपत्ति नहीं है और फ्लोवर के जरिए भी बाहर जाने में उतनी ही समस्या है जितनी पटरियों को पार करने में इसीलिए जबतक रेलवे द्वारा बाहर निकलने का कोई उचित रास्ता मुहैया नहीं कराया जाएगा तब तक उनके पास ट्रैक को फांद कर बाहर जाने का कोई रास्ता नहीं है और इसी के चलते प्रशासन द्वारा लगाई गई रेलिंग के साइड से दीवार तोड़ कर लोग स्टेशन से बाहर निकलने का रास्ता बना रहे है। स्टेशन की दूसरी सबसे बड़ी समस्या यह है कि अक्सर लोग पटरियों के बीच में बैठे नजर आते है जिनका कहना है कि वे ट्रेन के इंतजार में यहां बैठे होते है जिसपर प्रशासन द्वारा अभी तक कोई कार्यवाही नहीं की जा रही है कभी कभी तो लोग पटरियों के बीच बैठकर पत्ते खेलते हुए भी नजर आते है। आवश्यकता है कि प्रशासन इस स्टेशन की इन समस्याओं पर जल्द से जल्द ध्यान दे ताकि स्टेशन पर होने वाली दुर्घटनाओं पर नियंत्रण किया का सके।


Related News



Insert title here