Bootstrap Example

पाली गांव के लोगो में दिखा कोरोना का खौफ, गांव में बनाए जा रहे आइसोलेशन वार्ड के खिलाफ जमकर किया विरोध प्रदर्शन

@Anuj Sharma

पूरे देश में महामारी के रूप में फैल रहे कोरोना वायरस से बचाव के लिए फरीदाबाद शहर के कई सरकारी एवं गैर सरकारी अस्पतालों में ऐतिहात बरतते हुए कोरोना पीड़ितों को रखने के लिए आइसोलेशन वार्ड बनाए जा रहे है। इसी के चलते फरीदाबाद के गांव पाली के प्राथमिक सहायता केंद्र में आइसोलेशन वार्ड बनाया जा रहा था जिसका गांव के सरपंच सुंदर ने गांव के आम ग्रामीण लोगो के साथ मिलकर जमकर विरोध किया। गांव के लोगो ने अपना विरोध जताते हुए कहा कि हम कोरोना से पीड़ित मरीजों को अपने गांव में नहीं रहने देंगे क्योंकि यदि ऐसा हुआ तो उनके गांव के लोग भी इस वायरस की चपेट में आ जाएंगे। अपना विरोध जाहिर करते हुए गांव के सरपंच ने सैकड़ों की संख्या में मौजूद गांव के लोगो के साथ मिलकर गांव के प्राथमिक सहायता केंद्र के बाहर नारेबाजी की और पत्र लिखकर जिला आयुक्त को आवेदन किया की उनके गांव में ये आइसोलेशन वार्ड ना बनाया जाए। गांव के सरपंच सुंदर ने आयुक्त को पत्र लिखते हुए कहा कि हमारे गांव के प्राथमिक सहायता केंद्र में कोरोना के मरीजों को रखने के लिए आइसोलेशन वार्ड बनाया जा रहा जिससे हमारे गांव में इस वायरस से पीड़ित संभावित लोगो को यहां रखा जाएगा जिससे गांव के लोगो में डर का माहौल बना हुआ है। साथ ही गांव के सरपंच द्वारा पाली गांव के प्राथमिक सहायता केंद्र में बनाए जा रहे आइसोलेशन वार्ड को शहर के अन्य बड़े अस्पतालों में शिफ्ट करने की मांग की है। पाली में लोगो द्वारा किया गया यह विरोध सही है या गलत इसका आंकलन तो हम नहीं कर सकते लेकिन यह विरोध दर्शाता है कि इस वायरस के बारे में जागरूकता ना होने के कारण आमजन में किस प्रकार इस वायरस के प्रति डर बना हुआ है जोकि इस वायरस से भी ख़तरनाक साबित हो सकता है।


Related News



Insert title here