Bootstrap Example

सात्विक भोजन है शरीर के लिए लाभकारी

@Deepika gaur

सात्विक भोजन हमारे तन और मन दोनों के लिये अच्छा है अब यह जानना जरूरी है कि सात्विक भोजन क्या है, जो भोजन शरीर की मशीन में आसानी से पचे और विकार न पैदा करे हमारे शरीर की ग्रंथियों से उत्पन्न रस से बिना किसी अधिक तकलीफ के पॅची वही सात्विक भोजन है , गरिष्ठ भोजन जो शायद स्वाद में अच्छा लग सकता है लेकिन शरीर को उसे पचाने में ज्यादा उर्जा खर्च करनी पड़े तो तन तो स्फूर्तिदायक रह नहीं पता मन भी कष्ट पाता है हरी सब्जियाँ, पूरा अनाज यानी चना, उड़द आदि, दलिया   भी अच्छा है आटे में जौ, चना या बीन का आटा मिला लें,  लईया यानी ममरा, मक्के पौवा, यह सब चीजें सात्विक भोजन में आती है इन सबको अधिक मात्रा में लें, ऋतु फल अच्छे है केला और चीकू कम मात्रा में ले , पपीता, सेब, अनार, ककड़ी, आलू बुखारा, अमरूद, नासपाती, अन्नानास, संतरा मौसमी सब अच्छे है गाय का दूध ज्यादा अच्छा है भैंस के दूध से ...

 

सिर्फ मांस ही नहीं, गरिष्ट भोजन  भी आपके पाचन तंत्र पर ज्यादा जोर डालकर आपकी स्फुर्ती को कम करते है, इसलिये गरिष्ठ भोजन भी  जानना जरूरी है और कम से कम इस्तेमाल करें, आलू, अरबी, जमींकन्द सभी गरिष्ठ है चावल बिना माड़ निकाने खाना गरिष्ठ ही होता है ज्यादा तली हुई चीजें और दूध की मिठाईंया  कम खाएं बिल्कुल बंद न करें, रस और छाश अधिक उपयोग करें और पानी अधिक से अधिक पिये , इस सब का पालन करने से आपको विशेष उर्जा का अनुभव होगा, मन संतुष्ट रहेगा और जीवन सुखमय प्रतीत होगा बीमारियों का आना बहुत कम हो जायेगा, अगर हम खानपान पर शै ध्यान दें, जंक फुड न खाएं ब्रेड और बिस्किट भी कम करें तो हमारा शरीर स्वस्थ रहेगा और हमें बुढापे की ज्यादा चिंता नहीं होगी क्योंकि शरीर स्वस्थ का मतलब बुढ़ापा देर से और देर से.

 


Related News



Insert title here