Bootstrap Example

भाजपा विधायक नरेंद्र गुप्ता ने तोड़ा अपने लिए बनाया हुआ जाल

@Deepika gaur

भाजपा विधायक नरेंद्र गुप्ता की पहल पर हजारों लोगों के आशियाने उजडऩे का संकट फिलहाल टल गया है। विधायक गुप्ता ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल से विशेष तौर पर बात कर 17 हजार मकान रूपी झुगिगयों को टूटने से बचा लिया है। इससे हजारों लोगो को बड़ी राहत मिली है। विधायक नरेंद्र गुप्ता के विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत आने वाली गुरूग्राम नहर किनारे स्थित प्रेम नगर व पटेल नगर की झुगगी रूपी मकानों को तोडऩे की तैयारी कर ली गई थी । जैसे ही इन लोगों को अपने आशियाने उजडऩे की जानकारी मिली तो वह दहशत में आ गए। इस मामले को तत्काल रूप से कांग्रेस ने अपना मुद्दा बना लिया। कांग्रेस ने 17 हजार मकानों को तोड़े जाने को लेकर भाजपा सरकार पर हमला बोल दिया। वहीं दूसरी ओर प्रभावित लोगों ने ग्रीवेंस कमेटी में पहुंचकर उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला के समक्ष अपनी गुहार लगाई। कुल मिलाकर यह मामला भाजपा सरकार के लिए गले की फांस बन गया था। बताया गया है कि भाजपा के कुछ लोग भीतरखाने इस मामले को लेकर विधायक के खिलाफ माहौल बनाने में भी जुट गए थे। मगर दूसरी ओर लोगों के आशियाने उजडऩे के मानवीय पहलू को देखते हुए विधायक नरेंद्र गुप्ता ने सोमवार को चंडीगढ़ में मुख्यमंत्री मनोहरलाल से मुलाकात कर विशेष तौर पर यह मुद्दा रखा। मुख्यमंत्री ने भी विधायक गुप्ता की इस मांग को तत्काल मान लिया और तोडफ़ोड़ पर रोक के आदेश जारी कर दिए। विधायक नरेंद्र गुप्ता ने हजारों लोगों को राहत देने के आदेश पर सीएम का आभार जताया। विधायक ने कहा कि उन्होंने मुख्यमंत्री के समक्ष मांग रखी है कि प्रभावित लोगों के पुर्नवास हेतु पहले कोई ठोस नीति बनाई जाए, उसके बाद ही मकानों को तोड़ा जाए। उन्होंने उम्मीद जताई की सरकार उनकी मांग पर साकारात्मक कदम अवश्य उठाएगी।


Related News



Insert title here