Bootstrap Example

संत रविदास की जयंती के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में पहुंचे उपयुक्त यशपाल यादव, कहा संत एवं महात्माओं के दिखाए रास्ते पर चल समाज हित में योगदान दें युवा

@Anuj Sharma

उपायुक्त यशपाल ने रविवार को बल्लभगढ़ के सैक्टर-3 में स्थित अम्बेडकर भवन में जिला स्तरीय संत शिरोमणि गुरु रविदास के 643 वी जयंती समारोह में बतौर मुख्य अतिथि के रूप में लोगों को सम्बोधित कर रहे थे। इससे पूर्व उपायुक्त ने समारोह का शुभारंभ संत शिरोमणि गुरु रविदास की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित व दीप प्रज्वलित करके किया। समारोह में जिला कल्याण अधिकारी वन्दना शर्मा, अम्बेडकर भवन सभा के प्रधान विश्व नाथ,उप प्रधान धर्मवीर सिंह, सचिव कुलदीप, कोषाध्यक्ष धनराज,एडवोकेट ध्रुव कुमार, रामकुमार तंवर, अशोक कुमार,प्रदीप सहित प्रसाध्दी राम,धर्मेन्द्र, घनश्याम दास, सन्दीप, प्रीतम, श्रीमती पूजा, श्रीमती ऊषा रानी तथा कई गणमान्य नागरिक उपस्थित थे। उपायुक्त यशपाल ने कहा कि संत और महात्माओ को कभी भी भुलाया नहीं जा सकता बल्कि उनकी शिक्षाओं का स्वयं अनुसरण करके समाज में लोगों को जागरूक करना होगा । यही संत शिरोमणि रविदास जी की जयंती की सच्ची श्रद्धांजलि होगी। उन्होंने कहा कि संत महात्माओ की शिक्षाओ की बदौलत ही अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर भारतीय संस्कृति की विशेष पहचान है। उपायुक्त यशपाल ने कहा कि संत महात्मा किसी एक समाज के नहीं होते। संत महात्मा हमारी धरोहर है और युवाओं को उनकी शिक्षाओं से सीख लेते हुए उपनी उर्जा समाज उत्थान में लगानी चाहिए। उन्होंने कहा कि युवा नशे से दूर रहे और राष्ट्र हित में अपना योगदान दें।समारोह को एचसीएस अधिकारी एन के फुले ने भी सम्बंधित कर संत शिरोमणि रविदास जी की जीवनी और उनकी शिक्षाओं बारे भी विस्तार पूर्वक जानकारी दी। समारोह को कुमारी शालु, धर्मवीर सिंह ने भी अपने विचार रखे। जिला कल्याण अधिकारी वन्दना शर्मा ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा संत महात्माओं व महापुरूषों की जयंती का राज्यस्तर पर मनाया जाता है ताकि युवाओं संत महात्मा की शिक्षाओं से प्रेरणा लें और सभ्य नागरिक बन समाज हित में योगदान दें।


Related News



Insert title here