Bootstrap Example

डी ए वी शताब्दी कॉलेज, फरीदाबाद में 'बजट 2020 ' पर हुई परिचर्चा ।

@Mahesh kumar

एन एच ३ स्थित डी ए वी शताब्दी कॉलेज, फरीदाबाद के वाणिज्य विभाग (एस एफ एस ) की ओर से प्रति वर्ष की भांति इस वर्ष भी संघीय बजट 2020 पर एक परिचर्चा का आयोजन किया गया । इस बजट टॉक शो सीरीज 5 परिचर्चा में कॉलेज एलुमिनस और सी ए अनूप मोदी ने बतौर मुख्य वक्ता उपस्थित होकर सभी छात्रों एवं शिक्षकों को बजट की बारीकियों एवं दूरगामी प्रभावों से अवगत कराया । सी ए अनूप मोदी ने बजट 2020 में उच्च शिक्षा के क्षेत्र में शुरू होने वाले ऑनलाइन डिग्री कोर्स की जानकारी छात्रों को दी और साथ ही बजट में रोजगार की राह आसान बनाने के लिए स्टार्ट अप, स्किल इंडिया से लेकर इलेक्ट्रॉनिक सेक्टर के लिए भी की गयी गई नई घोषणाओं से भी अवगत कराया। शिक्षक वर्ग को आय कर से जुड़ी घोषणाओं के संभावित परिणामों की जानकारी देते हुए बजट की दूरदर्शिता पर ध्यान केंद्रित करने के लिए कहा । उन्होंने प्रस्तुत बजट को लंबे सफल भविष्य की उम्मीदों पर खरा बताते हुए संतुलन,समन्वय और सावधानी को संघीय बजट का मूल मंत्र माना। वाणिज्य विभाग ने कॉलेज के प्राचार्य डॉ सतीश आहूजा के दिशा-निर्देशन में प्रत्येक वर्ष अपने छात्रों एवं शिक्षकों को संघीय बजट की पूर्ण जानकारी उपलब्ध कराने की जो पहल की है, वह नि:संदेह प्रशंसनीय है । परिचर्चा के प्रमुख बिंदु 1.आयकर की पुरानी और नई दोनों कर-दरों पर की गयी गहन चर्चा । 2.भ्रष्टाचार की रोकथाम हेतु किये उपायों की सराहना । 3.वेतनभोगी कर्मचारियों को मिली सुविधाओं पर चर्चा । 4.कर अंकेक्षण ,ई-इनवॉइस ,ई- असेसमेंट पर विशेष चर्चा । 5.रोजगार को बढ़ावा देने के लिए किए गए उपायों पर जानकारी । 6.सभी सरकारी नौकरियों के लिए एक प्रतियोगी परीक्षा के आयोजन की प्रशंसा । इस परिचर्चा के दौरान कॉलेज प्राचार्य ने वाणिज्य विभाग एस एफ एस की " बजट टॉक शो " की नियमित श्रृंखला बनाए रखने के लिए प्रशंसा करते हुए कार्यकारिणी समिति के सभी सदस्यो और विशेषकर अनूप मोदी को धन्यवाद देते हुए सबका उत्साह वर्धन किया । इस बजट टॉक शो सीरीज 5 में हमारे देश के वित्त मंत्रालय द्वारा चलाये गये "हलवा सेरेमनी" रीत का अनुसरण करते हुए परिचर्चा के अंत में हलवा वितरण कर इस दूरगामी बजट के सफल होने की कामना की गयी । इस अवसर पर प्रोफेसर मुकेश बंसल, डॉ सुनीता आहूजा, प्रोफेसर विरेन्दर भसीन, श्रीमती ललिता ढींगरा,प्रोफेसर रवि कुमार सहित अनेक शिक्षक-शिक्षिकाओं ने परिचर्चा में भाग लिया । कार्यक्रम के सफलतापूर्वक संचालन में कार्यकम समन्वयक बिंदु रॉय, कार्यकारी सचिव ई एच अंसारी और मिस आरती कुमारी का विशेष योगदान रहा ।


Related News



Insert title here