Bootstrap Example

महाविद्यालय में आयोजित पर्यावरण संरक्षण एवं करीयर संबेधित तीन गतिविधियाँ

@Anuj Sharma

29 जनवरी 2020 को अग्रवाल महाविद्यालय बल्लबगढ़ में तीन गतिविधियाँ महाविद्यालय प्राचार्य डाॅ. कृष्ण कान्त के दिशा-निर्देशन में आयोजित की गईं। स्वच्छता सेनानी टीम के अंतर्गत जागरुकता अभियान का आयोजन किया गया। इसमें एक एन.जी.ओ.-एक्ट, एक्शन इन कम्यूनिटी तथा ट्रैफिक की संस्थापक श्रीमती गुरप्रीत कौर तथा तपन चैटर्जी ने छात्राओं से इ-वेस्ट प्रबंधन पर चर्चा की तथा बताया कि इ-वेस्ट जहाँ एक तरफ प्रदूषण बढाता है वहीं बहुत सी बीमारियों का भी जन्म देता है। उन्होंने बताया कि इ-वेस्ट हमेशा पंजीकृत विभागों में ही देनी चाहिए ताकि वे उसका सही इस्तमाल कर सकें। करीब 150 विद्यार्थियों ने इससे लाभ प्राप्त किया। डाॅ. संजीव गुप्ता व डाॅ. सारिका कांजलिया द्वारा यह आयोजन करवाया गया। डाॅ. इनायत चैधरी भी इस मौके पर उपस्थित थीं। आज ही महाविद्यालय के पर्यावरण क्लब के अंतर्गत पर्यावरण संरक्षण विषय पर विशेषज्ञ वार्ता आयोजित की गई जिसमें मुख्य वक्ता के रूप में श्री महीपाल जी उपस्थित थे। उन्होंने उपस्थित लगभग 110 धरती मित्रों को संबोधित करते हुए पर्यावरण के संरक्षण के लिए ठोस कदम उठाने पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि यह प्रत्येक व्यक्ति की जिम्मेदारी है ना कि सरकार की क्यांेकि हम सब किसी ना किसी रूप में प्रदूषण फैलाने में भगीदार हैं तो इसको सुधारने में भी हम सब को मिलकर प्रयास करने चाहिए। उन्होने पर्यावरण संपक्षण के लिए रिसाईकलिंग को अनिवार्य बताया। इस वार्ता में पर्यावरण क्लब की संयोजिका श्रीमती किरण आनन्द व डाॅ. अशोक निराला जी उपस्थित रहे। वहीं आज ही वाणिज्य विभाग द्वारा कंपनी सचिव- एक करीयर विषय पर एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम का आरंभ मुख्य वक्ता के रूप में आए श्री हिमान्शु को पौधा भेंट करके किया गया। मुख्य वक्ता ने विद्यार्थियों को कंपनी सचिव के उन पहलुओं की जानकारी दी जिनसे वे अनभिज्ञ थे। उन्होंने विद्यार्थियों को एकल व्यवसाय से लेकर कंपनी व्यवसाय तक के विभिन्न चरणांें से अवगत कराया। उन्होने बताया कि कंपनी अधिनियम 2013 के आने के बाद कंपनी सचिव का क्षेत्र बढ गया है क्योंकि प्रत्येक कंपनी जिनकी प्रदत्त पूंजी 10 करोड या इससे ज्यादा है उनको कंपनी सचिव रखना अनिवार्य है। उन्होने बताया कि कंपनी सचिव को एक पेशे के रूप में भी अपनाया जा सकता है। उन्होने बताया कि आप कंपनी सचिव कोर्स को दूरस्थ शिक्षा माध्यम से कर सकते हो। विद्यार्थियों ने इस व्याख्यान को बडे रूचि व उत्साह के साथ सुना तथा मुख्य वक्ता ने कंपनी सचिव के विषय में विद्यार्थियों के विभिन्न प्रश्नों के उत्तर दिए। वाणिज्य विभाग के 150 विद्यार्थियों ने इस कार्यक्रम में बढ-चढकर भाग लिया। इस अवसर पर वाणिज्य विभाग से डाॅ. शोभना गोयल, डाॅ. रेखा सैन, डाॅ. डिम्पल, श्रीमती प्रीति, कोमल और पूर्णिमा उपस्थित रहे। कार्यक्रम का समापन वाणिज्य विभागाध्यक्षा डाॅ. शोभना गोयल के धन्यवाद ज्ञापन के द्वारा हुआ।


Related News



Insert title here