Bootstrap Example

केएल मेहता कॉलेज की 50 वीं वर्षगांठ पर मनोहर लाल खट्टर ने कहा सरकार अपने प्रयास से समाज में बदलाव ला रही है

@Deepika gaur

फरीदाबाद के एनआईटी स्थित केएल मेहता दयानंद कॉलेज के 50 वर्षगांठ पर हरियाणा प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने मुख्यमंत्री के रूप में शिरकत की कॉलेज ने मुख्यमंत्री का स्वागत तिलक लगाकर और फूल मालाओं के साथ किया के एल मेहता कॉलेज के मंच से मुख्यमंत्री ने उपस्थित सभी को संबोधित करते हुए कहा कि के भाजपा सरकार के आने पर राज्य बदलाव आए हैं फरीदाबाद के एनआईटी स्थित के एल मेहता कॉलेज में 50 वीं वर्षगांठ पर संबोधित करते हुए हरियाणा प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर भाजपा सरकार की उपलब्धियों को गिनाते हुए कहा कि भाजपा सरकार से पहले हरियाणा में स्कूल और कॉलेज की गिनती बहुत कम थी भाजपा सरकार आने के बाद इसमें सर्वे किया गया और हमने देखा कि प्रदेश में 20 किलोमीटर में कॉलेज नहीं है और इसी को लेकर हमने ऐसी 40 जगहों को चिन्हित किया गया जहां पर कॉलेजों का नाम निशान नहीं था फिर भाजपा सरकार ने इस पर काम करना शुरू किया और हर 10 किलोमीटर में कॉलेज बनाने का निर्णय लिया अब सरकार के प्रयास से हर 10 किलोमीटर में एक कॉलेज है।  हमारी सरकार आने के बाद 31 महिला  कॉलेज खोले गए हैं वहीं सरकार आने से पहले प्रदेश में लड़का लड़की के लिंगानुपात की संख्या बहुत ज्यादा थी । हमारी सरकार के आने के बाद हमने सबसे पहले इस पर कार्य करना शुरू किया लोगो को जागरूक किया और  इस बढते अनुपात का रोकने का प्रयास किया गया सरकार ने 5 सालो में 30000 बच्चियो को  कोख में  हत्या होने से बचाया गया । हरियाणा में लिंगनुपात के साथ साथ लड़कियों की  शिक्षा और सुरक्षा पर बोलते हुए कहा कि हमने 40 महिला कॉलेज खोले जाने हैं जिनमें से 31 कॉलेज वह खोल चुके हैं उन्होंने कहा की छात्राओं की सुरक्षा के लिए सरकार तेजी से काम कर रही है

उन्होंने कहा कि लड़कियों के सुरक्षित परिवहन के लिए 181 रूट तय किए गए हैं जिससे महिला स्पेशल बस चलाई जाएगी । जिन रूटों पर लड़कियों की संख्या कम है उन रूटों पर छोटी मिनी पिंक बसें चलाई जाएंगी उन्होंने कहा कि लड़कियों की सुरक्षा के लिए चलने वाली इन पिंक बसों में महिला पुलिस की भी तैनाती की जाएगी


 छात्रा परिवहन सुरक्षा स्कीम लांच की गई है और पूरे प्रदेश में अब तक 32 महिला थाने खोले जा चुके हैं और अगले कुछ ही समय में 2 महिला थाने  भी खोले जाएंगे जिसके बाद पूरे प्रदेश में महिला थानों की संख्या 34 हो जाएगी। मुख्यमंत्री ने कहा की प्रदेश में महिलाओं की सुरक्षा को देखते हुए 2000 महिला सिपाहियो की भर्ती की गई ।  छात्राओ के लिए 300 बसों में सीसीटीवी कैमरे लगवा दिए है


Related News



Insert title here