Bootstrap Example

सेव अरावली NGO द्वारा जनता को पर्यावरण के प्रति जागरूक करने की मुहिम द्वारा आयोजित की जाने वाली अरावली यात्रा का आगाज

@Anuj Sharma

मोहबताबद के झरना मन्दिर के पास अरावली के जंगल मे किया । यह संस्था द्वारा 2020 की पहली यात्रा थी, इस यात्रा में फरीदाबाद के साथ साथ दिल्ली एनसीआर के 200 से अधिक पर्यावरण प्रेमियो ने हिसा लिया। यात्रा के दौरान सेव अरावली के संस्थापक श्री जितेन्द्र भड़ाना ओर रमेश श्योराण ने पर्यावरण प्रेमियो को बताया की अरावली को किस तरीके से बर्बाद किया जा रहा है हम इसे बचाकर भी देश सेवा कर सकते है। उन्होंने लोगो को जागरूक करते हुए बताया कि अरावली हमारे फेफड़े है ओर इसका संरक्षण क्यो जरूरी है??? उन्होंने आगे लोगो को बताया कि कैसे जंगल को बचाने वाले लोग जो उनके ऊंचे सरकारी पदों पर आसीन है वो खुद अरावली में पहाड़, जंगल की जमीन खरीद कर फार्म हाउस बना रहे है। अभी हाल ही में फरीदाबाद DFO ने अरावली में जंगल की जमीन अपनी बीवी के नाम 290/-रु वर्ग गज के रेट से खरीदी। साथ साथ ये भी संदेश दिया गया कि पानी बचाना कितना जरूरी है सेव अरावली का कहना है मात्र पेड़ो को बचा लिया जाये तो हर वो चीज बच सकती है जो की इस पूरे संसार के जीवन के लिये जरूरी है। इस यात्रा में सेव अरावली NGO के संजय राव, कैलाश बिधूड़ी, यस भड़ाना सुनील भड़ाना, विकाश थरेजा, शुचित्रा खन्ना, रमेश श्योराण, नोएडा से अपनी टीम के साथ आई श्रेया मिश्रा, ओर इस बार फरीदाबाद के पर्यावरण प्रेमी डॉ अनिल शर्मा की टीम भी यात्रा में शामिल हुई। इससे अलग मोहबताबाद से राज भड़ाना ओर उनकी टीम ने भी यात्रा में आये लोगो के लिये नाश्ते के इंतजाम किया। सेव अरावली ये यात्रा लोगो को अरावली से जोड़ने और पर्यावरण को बचाने के लिए हर महीने आयोजिय करती है। जिसकी सूचना सोशल मीडिया के सभी प्लेटफार्म के मार्फ़त दी जाती है और इसने भाग लेने वाले प्रतिभागियों से कोई शुल्क नही लिया जाता।


Related News



Insert title here