Bootstrap Example

कानून को हाथ में लेकर किसी को सज़ा देना कहा तक सही है

@Deepika gaur

कल से शहर में एक वीडियो काफी वायरल हो रही है जिसमें इस व्यक्ति द्वारा एक विकलांग व्यक्ति को पीटा जा रहा है देखने में  थोडा सा अविश्वसनीय है कि कोई किसी को इस तरह से पीटा जा रहा है वीडियो के पीछे का सच जानने का प्रयास किया गया तो पता चला कि यह घटना साधना चौक डबुआ की है जिसमें मार खाने वाला व्यक्ति जिसका नाम संतोष है उसके द्वारा पैसों की चोरी की गई थी और  घटना कैमरे में कैद हुई वही नगर निगम के ट्यूबवेल ऑपरेटर ने खुद ही चोरी करने वाले व्यक्ति को सजा देना शुरू कर दिया संतोष को पीटना शुरू कर दिया इस घटना  के समय आसपास के सभी लोग इकट्ठा हो गए वहीं पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार बताया गया कि  दोनों पक्षों में किसी ने भी किसी तरह की कोई मर्ग दर्ज नहीं कराई है और दोनों पक्षों का समझौता हो गया है
सोचने वाला सवाल यह है कि अपने हाथों में कानून देकर किसी का इस कदर तीन हमी से पीटकर सजा दे सकता है यह सोचने वाला विषय है पुलिस इसीलिए है कि मुजरिम को कानून के तहत पकड़े और न्यायालय में पेश करें


Related News



Insert title here