Bootstrap Example

मौसम हुआ गर्म लेकिन वापिस उत्पन्न हुई शहर की पुरानी समस्या

@Anuj Sharma

गत वर्ष का पूरा दिसंबर बेहद ठंडा रहा जिस कारण लोगो के रोजाना के काम काज पर खासा असर देखने को मिला तो वहीं लोगो के आम जन जीवन को भी ठंड ने काफी प्रभावित किया। 
लेकिन जैसे ही नए साल की शुरुआत हुई तो मौसम में भारी बदलाव हुआ ओर ठंड में कमी देखने को मिली जिस से लोगो को दिन के समय में तो ठंड से राहत मिल पा रही है लेकिन रात के समय अभी भी सर्दी का सितम जारी है। 
लेकिन जैसे ही मौसम में बदलाव हुआ तो शहर की पुरानी समस्या बढ़ चढ़ कर फिर से शहर वासियों के सामने आ खड़ी हुई।
मौसम में बदलाव के कारण जैसे ही तापमान में बढ़ोतरी हुई तो बढ़ते प्रदूषण के चलते जहरीली हवाओं ने फिर से शहर को अपनी चपेट में ले लिया है।
 2 जनवरी को जहां फरीदाबाद का प्रदूषण स्तर 418 आंका गया जोकि सामान्य से 8 गुना अधिक है। तो वहीं आज की तारीख में फिलहाल शहर का प्रदूषण स्तर 235 बना हुआ है और दिन बढ़ने के साथ साथ यह स्तर बढ़ता जाएगा। 
20 दिसंबर के बाद से ही प्रदूषण स्तर अमूमन 300 तक बना हुआ है जो कभी कभी बढ़कर 400 के पार भी चला जाता है। 
प्रदूषण स्तर में इस प्रकार बढ़ोतरी से साफ नजर आ रहा है जहां एक तरफ मौसम में हुए बदलाव से लोगो को ठंड से निजात मिल रहा है तो वहीं दूसरी ओर प्रदूषण की समस्या और जहरीली हवाएं शहर के वातावरण में अपना वर्चस्व कायम कर रही है।

 


Related News



Insert title here