Bootstrap Example

श्रीमद़ भागवत् कथा में भगवान के 52 अवतारों का व्याख्यान किया

@Deepika gaur

 

श्रीराम मंदिर तालाब वाली गली ओल्ड फरीदाबाद में आयोजित श्रीमद़ भागवत् कथा में कथा व्यास परम श्रद्वेय काष्र्णि रवीन्द्र आचार्य जी महाराज ने भगवान के 52 अवतारों का व्याख्यान किया। उन्होनें बताया कि बलि के द्वार पर भिक्षा के लिए 52 भगवान द्वारा तीन पग दान में मांगें और तीन पग मिलने पर भगवान ने तीनों लोकों को तीन पग में नाप लिया। उन्होनें बताया कि भगवान ने अपने भक्त के लिए सारी सम्पति को लेकर के उसे भक्ति का वरदान दिया। उन्होनें बताया कि भगवान के नाम की महिमा इतनी है कि एक बार नाम लेने पर ही भगवान अपने धाम को भेज देते है। रवीन्द्र आचार्य जी महाराज ने अजमिल के चरित्र के बारे में बताया जो भगवान का एक नाम लेने पर धाम को चला गया। उन्होनें कहा कि आज के संसारी लोगों को चाहिए कि वे भगवान के नाम का अभ्यास करें क्योकि अंतिम समय पर भगवान स्वंय उन्हें लेने के लिए पधारते है। इस अवसर  इस अवसर पर अजय गर्ग,कृष्ण कान्त आर्य,ओमप्रकाश मंगला,शिव कुमार डालमिया, अमित कपूर,यशंवत शर्मा,ऋषभ बजाज,हेमंत शर्मा,जगदीश विरमानी,ओमप्रकाश मदान,अमित कपूर,सुमित कपूर,परविन्द्रर मल्होत्रा(शंटी),सचिन शर्मा,अनिल मदाननरेश कुमार खन्ना,देशू खन्ना,अशोक ढीगड़ा,संजय टूटेजा,लोकेश शर्मा,उमा शर्मा,रेनू मल्होत्रा,रेखा सिंगला,दीप्ती शर्मा,राधा,निशा,सुधा व पुष्पा शर्मा,रूबी,संगीता शर्मा आदि भक्त उपस्थित थे।


Related News



Insert title here