Bootstrap Example

2020 तक सभी विभागों को पेपरलैस करने का प्रयास- दुष्यंत चौटाला

@Deepika Gaur

- सभी जिलों में सेवाओं का वैबपोर्टल से होगा मूल्यांकन
- विभागों की होगी मॉनिटरिंग, नए सरल केन्द्र होंगे स्थापित
फरीदाबाद, 25 दिसंबर।    हरियाणा के उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा कि आने वाले समय में जल्द ही प्रत्येक विभाग की वर्किंग की मॉनिटरिंग एवं समीक्षा की जाएगी और प्रदेश के सभी 22 जिलों में सेवाओं और स्कीमों का मूल्यांकन वैबपोर्टल के माध्यम से किया जाएगा। साथ 2020 तक सभी विभागों को पेपरलैस कर डीजिटलाईज करने की कोशिश की जाएगी। ताकि जनता की मांग और जरूरत के अनुसार विभागों की कार्यप्रणाली में सुधार किया जा सके। 
प्रदेश के उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने फरीदाबाद में पूर्व प्रधानमंत्री स्व अटल बिहारी वाजपेयी के जन्मदिवर पर आयोजित सुशासन दिवस के अवसर पर संबोधित करते हुए यह बात कही। उन्होंने कहा कि अगर देश एवं प्रदेश की तुलना दुनिया के दूसरे देशों से की जाए तो हमें अग्रिम तकनीक के साथ काम करने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि समय की मांग के अनुरूप ऐसी व्यवस्था करने और संस्थान स्थापित करने की जरूरत है, जहां एक ही जगह पर सभी कार्य करवाए जा सकें। ऐसी व्यवस्था से ही प्रदेश में डीजिटलाईजेसन की सोच सार्थक होगी। जहां हमारे सहयोग की जरूरत होगी, उसे पूरी जिम्मेदारी के साथ निभाया जाएगा। उन्होंने कहा कि एक-एक अधिकारी व कर्मचारी को प्रदेश के विकास में अपना कर्तव्य निभाना होगा। तभी सुशासन का मतलब सिद्व होगा।
उन्होंने कहा कि सरकार की योजना है और आज मुख्यमंत्री मनोहर लाल जी ने भी इस बात को माना है कि ज्यादा से ज्यादा जगहों पर सरल केन्द्र स्थापित करके डीजिटल सुविधा उपलब्ध करवाई जानी चाहिए ताकि संबंधित क्षेत्र के लोगों को वहीं पर सुविधा मिल सके। उन्होंने कहा कि आज उनसे फरीदाबाद के उघोगपतियों ने मिलकर अपनी बात रखी है। उघोगों को बेहतर सुविधाएं मुहया करवाने के लिए जल्द ही ए, बी, सी व डी श्रेणी की व्यवस्था की जाए, इसपर विचार होगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश के उघोगों को बेहतर सुविधाएं उपलब्ध करवाने के साथ-साथ कैसे प्रदेश के युवाओं को उघोगों में रोजगार के अवसर प्राप्त हों, इसपर भी कार्य किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के सभी रोजगार कार्यालयों से डाटा लेकर मुख्यालय के निर्देशों के अनुसार रोजगार मेले आयोजित किए जाऐंगे। 
श्री चौटाला ने कहा कि फरीदाबाद में पर्यावरण को लेकर भी रकार कारगर कदम उठा रही है ताकि लोगों के स्वास्थ को बेहतर किया जा सके। एक सवाल के जवाब में उन्होंने बताया कि लोक निर्माण विभाग के टविटर हैंडल पर 24 घंटें में ही 1010 शिकायतें आई और एक सप्ताह में ही 918 शिकायतों का समाधान कर दिया गया। उन्होंने कहा कि इस विभाग में कागजों पर ज्यादा काम होता है। अब कोशिश है कि विभाग में डीजिटल व्यवस्था पर काम हो और जे ई तक के कर्मचारी भी अपनी रिपोर्ट ऑन लाईन दें। उन्होंने कहा कि ऐसी व्यवस्था सभी विभागों में करने की कोशिश होगी। उन्होंने पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए कहा कि इस समय पूरे विश्व में ग्लोबल मैल्ट डाऊन है और ऐसे समय में भी हरियाणा एकमात्र ऐसा राज्य है, जिसने अर्थव्यवस्था को बेहतर रखा। उन्होंने कहा कि विपक्ष से पूछा जाए कि अगर प्रदेश में कॉमन मीनिमम प्रोग्राम की शुरूआत ना होती तो सरकार बनने के केवल 10 दिन के अंदर ही पेपर देने वाले युवाओं का केन्द्र 50 किलोमीटर के दायरे में कैसे आता। अभी सरकार की शुरूआत है। आने वाले समय में कॉमन मीनिमम प्रोग्राम को ओर प्रभावी ढंग से लागू किया जाएगा। 
उप मुख्यमंत्री ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि सरकारी मशीनरी का समूथ व प्रभावी प्रयोग बेहद जरूरी है। डीजिटलाईजेसन का फायदा तभी लोगों तक पहुंच पाएगा। उन्होंने कहा कि आज प्रदेश के करनाल जिला का सिरसी गांव देश का पहला ऐसा गांव बन गया है, जो लाल डोरा मुक्त है। आगामी 26 जनवरी तक इस गांव के प्रत्येक व्यक्ति को टाईटल भी दे दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में प्रदेश के सभी 22 जिलों को वैबपोर्टल के माध्यम से पूरी तरह संचालित किया जाएगा। सभी विभागों की मॉनिटरिंग और वर्किंग की जांच भी होगी। 
उन्होंने बताया कि हाल ही में उनसे चीन की एक कम्पनी के अधिकारी मिले थे, जो दुनिया की बडी कम्पनियों में से एक है और मोबाइल, टैबलेट व बैट्री बनाने का काम करती है। उस कम्पनी ने हरियाणा में निवेश की ईच्छा जाहीर की है। उन्होंने बताया कि इसके लिए फरीदाबाद सहित प्रदेश के आठ जिलों का प्रस्ताव उन्हें दिया गया है। उन्होंने कहा कि हरियाणा में कोई भी हवाई अड्डïा नही है। इसके लिए सरकार का प्रयास है कि अपै्रल 2020 तक हिसार हवाई अड्डïे को व्यवसायिक हवाई अड्डïे के तौर पर विकसित किया जाएगा। हिसार जिला में 40 हजार एकड भूमि है, जहां पर जरूरत के अनुसार बिजली पानी की भी व्यवस्था है। 
इस अवसर पर हरियाणा भण्डारण निगम के चेयरमैन एवं विधायक श्री नैयन पाल रावत, विधायक श्रीमती सीमा त्रिखा, विधायक राजेश नागर, आयुक्त डॉ जी अनुपमा, उपायुक्त अतुल कुमार द्विवेदी, फरीदाबाद की एफएमडीए नोडल अधिकारी आशिमा गर्ग, अतिरिक्त उपायुक्त धर्मेन्द्र सिंह, मुख्यमन्त्री के राजनीतिक सलाहकार अजय गौड, बीजेपी के महामंत्री सन्दीप जोशी, एसडीएम फरीदाबाद अमित कुमार, एसडीएम बङखल पंकज सेतिया, बीजेपी के जिला अध्यक्ष श्री गोपाल शर्मा, जेजेपी के जिला अध्यक्ष राजा राम सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी तथा बीजेपी व जेजेपी के वरिष्ठ नेता एवं गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।


Related News



Insert title here