Bootstrap Example

पाँच साल सत्ता में रहने पर भी नही हटा पाए कुप्रथा

@deepika gaur

घुघट में नजर आई महिलाएं विधायक बुनते रहे पार्टी के कसीदे प्रत्येक प्रत्याशी अपने चुनावी प्रचार में लगा है हर कोई अपनी ऐड़ी चोटी का जोर लगा है ताकि उसको जीत हासिल हो सके । प्रचार के लिए गांव गांव जाकर जनता को लुभाने का प्रयास कर रहे है ऐसा कोई मौका नही छोड़ना चाहते जिससे उनकी वोट कम हो जाये पर चाहे सरकार के प्रत्याशी कितनीं ही कोशिश कर ले पर कुछ चीजें को नही बदल पा रहे है ललित नगर अपने एक जनसमूह में जनता को संबोधित कर रहे है वहा का दृश्य कुछ अजीब ही था ललित नागर को सुनने के लिए जनसंपर्क में महिलाये भी आई हुई थी ।पर उन सभी महिलाओं ने घुघट किये हुये थे और वो सभी महिलाएं जमीन पर बैठी थी बल्कि सभी पुरूष कुर्सियां पर विराजमान थे और ललित नागर अपना भाषण दे रहे थे और सभी उनको सुन रहे थे लोग तालिया बजा कर उनका समर्थन कर रहे है पर सवाल ये उठता है कि जो 5 साल तक सत्ता में रहे कर भी अपने गांव में पर्दा प्रथा को नही हटा पाए उनके सामने ही वो महिलाएं घुघट में बैठी रही पर क्या एक विधायक को ये समाज मे फैली कुरीतियों को नही हटवा सकते ,,जब तक देख की आधी आबादी आज़ाद नही होगी तब तक देश कितनी ही सरकार क्यों ना बदल जाये देश पूर्ण रूप से आज़ादी की सांस नही ले सकता, आधी आबादी का दम तो घुघट में ही दब कर घुट जाएगा चाहे कितने ही बड़े वादों के साथ सरकार का गठन हो पर जब तक ज़मीनी स्तर की कमियों को नही हटाया जायेगा तक कोई गांव या शहर तररकी नही कर सकता हैं


Related News



Insert title here