Bootstrap Example

राम सेवक भी हैं कोरोना जंग में सहायक

@Mahesh Kumar

फरीदाबाद शहर की 69 वर्ष पुरानी 1 नंबर मार्किट में स्थित श्री विजय रामलीला कमेटी जो की दशहरे के पावन पर्व पर 15 दिन की मंचनीय रामायण का प्रदर्शन करते हैं और जन जन को हिन्दू सनातन धर्म की आत्मा मर्यादा पुरषोत्तम भगवान श्री राम की जीवन लीलों से अवगत करवाते हैं व रामायण में नयी पीड़ी की आस्था को प्रेरित करते हैं जिसके लिए चंदा इकठ्ठा किया जाता है परन्तु कोरोना वायरस की इस आपदा में ये संस्था राम के नाम पर आया हुआ दान रोज़ाना करीब 200 से अधिक ज़रूरतमंदों को भोजन व्यवस्थित करवाने में खर्च कर रही है । कमेटी के सेक्रेटरी सौरभ कुमार ने बताया की उन्हें कोई आपत्ति नहीं बल्कि गर्व होगा यदि कमेटी का सम्पूर्ण कोष इस कार्य में खाली ही क्यों न हो जाए, यह दान राम के नाम से लिया गया है और हम इसे सही मायने में राम के कार्य में ही लगा कर इसको असल रूप में सार्थक कर रहे हैं यह इस कमेटी का छोटा सा प्रयास है । चेयरमैन सुनील कपूर ने बताया की वो स्वयं संस्था में रहकर अपने निर्देशन में इस कार्य को पूरा करवाते हैं क्योंकि सोशल डिस्टन्सिंग एवं अन्य नियमों का पूरी तरह से पालन हो यह देखना वह अपनी ज़िम्मेवारी समझते हैं और दोपहर 1 बजे से लेकर रात्रि लगभग 9 बजे तक, जब तक भोजन बट न जाए वो स्वयं इसका निर्देशन करते हैं । संस्था के युवा सदस्य इसे बटवाने में व बुज़ुर्ग भोजन तैयार करवाने में मदद करते हैं और यह संस्था बड़े प्रेम से इस पुण्य कार्य में पिछले 9 दिन से लगी है । ये भण्डारा रामनवमी के दिन से निरंतर बटवाया जा रहा है ।


Related News



Insert title here